वित्तीय स्वतंत्रता क्या हैं, इसे कैसे हासिल कर सकते हैं? | How to achieve Financial freedom in India Hindi 2022

वित्तीय स्वातंत्रता का क्या मतलब होता हैं? ( What is Financial Freedom)

Financial Freedom Meaning in Hindi मतलब:

Financial Freedom मतलब आसान भाषा में कहा जाये तो यह एक ऐसी स्टेट है जहा आपको कभी भी पैसे के लिये काम करना ना पड़ें इसी को फायनेन्शियल फ्रिडम कहते हैं। आज हम इसी के बारे में जानेंगी कि What is Financial Freedom in Hindi और इसको हम कैसे हासिल कर सकते हैं। तो चलिये जानते हैं Financial Freedom plan अचिव करने के लिये क्या जरुरी हैं।

फायनाशियल फ्रिडम मतलब क्या ? (Financial Freedom in Hindi)

जब हमें पैसे कमाने कि विचारों से मुक्ती मिलती है या वित्तीय आजादी मिलती है उसे हम फायनाशियल फ्रिडम कह सकते हैं। इसका मतलब यह होता है कि हम काम करें लेकिन पैसे कमाने के लिये नहीं। इसमें हम पैसों के लिये नहीं बल्की पैसे हमारे लिखे काम करें।

बहुत-सारे लोग जिंदगी भर काम करते रहते हैं और उसमें देखा जाये तो उन्हें स्मार्ट इन्वेस्टमेंट को कोई आयडिया नहीं रहता लेकिन अगर आप अच्छे तरिके से Money Management करके चलोगे तो बहुत कम सालो में फायनाशियल फ्रिडम को प्राप्त कर सकते हों।

what is Financial Freedom in India hindi

अगर उदाहरण के तौर पर देखें तो अगर आपके घर, दवाई,घुमना और मेंटेनेंस का खर्चां यानी जितना भी आपको महिनें के लिये या रहने के लियें खर्चा आता है वह मान के चलिये की 30,000 रुपये हैं तो आपको ऐसी कुछ पॅसिव इनकम का सोर्स कि तयारी करनी पड़ेगी जिससे अगर आप महिने के लिये कुछ भी नहीं कर रहे होंगे तो भी इतनी इनकम आपको‌ किसी तरिके से महिने मिलती रहें यही फायनाशियल फ्रिडम कहलाया जायेगा। एक ऐसी परिस्थिति हों जिसमे आपको पैसे कमाने के लिये या घर को चलाने के लिये घर के बाहर ना जाना पड़ें।

इसी रिलेटेड आप हमारा घर बैठे कमाई करने के 9 तरिके? यह आर्टिकल भी पड सकते हैैं।

    फायनाशियल फ्रिडम को कैसे प्राप्त करें? ( Trade Your Way to Financial Freedom)

    ऐसा नहीं है कि इसे प्राप्त करने के लिये आपकी आमदनी ज्यादा होनी चाहिये तभी आप इसे हासिल कर सकते हैं। अगर आपकी आमदनी कम भी है और आप अच्छे तरिके से मनी मैनेजमेंट और रिस्क मैनेजमेंट करते हो तो आप इसे आसानी से प्राप्त कर सकते हों।

    आप किसी भी क्षेत्र में काम करते हो या काम चालु कर रहे हो आपको सही तरिके से इन्वेस्टमेंट, सेविंग आणि चाहिये और भविष्य का सोचकर आप इसे थोड़े समय में ही प्राप्त कर सकते हों। इसके लिये आपको बहुत सारे Financial Freedom book भी मार्केट से मिल जायेंगे। अगर आपको इन्वेस्टमेंट कर किताबों कि जानकारी चाहिये तो आप हमारा इनेवेस्टमेंट और शेअर मार्केट के ऊपर अच्छी 6 किताबें कौन सी हैं यह पढ़ सकते हैं।

    हम भविष्य के लिये एक ऐसा रास्ता सोचना होगा जो कि इस लक्ष को प्राप्त कर पायेंगे।

    जाॅब‌ करने वाले से कैसे प्राप्त करें फायनेन्शियल फ्रिडम ? ( How to achieve Financial Freedom in India)

    जादातर लोग 9 से 5 कि जाॅब करते रहते क्योंकी उनके पास कोई और दुसरा तरिका नहीं होता या तो वह उनका एक ही इनकम सोर्स होता हैं। बहुत से लोग यही‌ मानते हैं कि ऐसी जाॅब करनेवाले व्यक्ती कभी Financial Freedom को प्राप्त नहीं कर सकते लेकिन ऐसी कोई बात नहीं हैं आप जाॅब करते वक्त ही भविष्य के लिये ऐसी प्लाॅनिंग कर सकते हैं। अगर आप मानें 9 से 5 कि नोकरी करते हैं तो आप इसके साथ में या रोज एक थोड़ा सा समय निकाल कर ऐसा कुछ करें जिससे आप आज नहीं तो 5 साल 10 साल या 15 साल बाद जाके इसे Achieve कर पायेंगे।

    जिसी भी चींज में आपका स्किल है या आपको उसकी नाॅलेज है उसे नोकरी के साथ साथ आप उसे कर सकते हैं इससे आप इसकी नींव रख सकते हैं जिससे आप आनेवाले समय में वित्तीय स्वातंत्र्य प्राप्त कर पायेंगे।

    आज इंटरनेट पेनिट्रेशन इतना बढ गया है जिसके कारण आप अनेक सिखे सिख सकते हैं और घर बैठे कर भी सकते हैं।

    फायनाशियल फ्रिडम को प्राप्त करने के लिये कुछ पॅसिव इनकम करने के तरिके? ( What is Financial Freedom Passive Income?)

    अपने लक्ष को प्राप्त करने के लिये आपको आज से हि अपने स्किल या जानकारी के हिसाब से कोई पॅसिव चींजों को करना चाहिते जिसे करने से आप आगे जाके Financial Free हो सकते हैं। इसे कुछ जाने-माने तरिको के बारे हम आज आपको बतायेंगे।

    1.बैंक में फिक्स्ड डिपॉजिट करना ( Bank Fixed Deposit):

    ज्यादातर लोग जो अपना पैसा बैंक में फिक्स्ड डिपॉजिट करते हैं और इससे आपको महिनें के या साल के आखिर में एक फिक्स इनकम होती रहती है अगर आपकी राशी बढ़ी है तो आप इसमें से रेगुलर इनकम पाके इससे भी पैसे कमाने कि चींज से छुटकारा पा सकते हैं लेकिन अगर पहिले की तुलना में आज के समय में इसका प्रतिशत बहुत कम मिलता है इसलिये ज्यादातर यह तरिका आपके फायदे का नहीं होगा।

    2. म्युचूअल फंड और शेअर मार्केट में निवेश ( Mutual Fund & Share Market):

    अगर आपको शेअर बाजार और म्युचूअल फंड स्किम के बारे में जानकारी है तो आप को इसमें बहुत अच्छे रिटर्न मिल सकते हैं और आप अच्छी खासी एक राशी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

    मुच्युअल फंड और शेअर मार्केट के बारे में अगर आपको ज्यादा जानना है तो आप म्युचुअल फंड क्या हैं और कैसे काम करता है और शेअर मार्केट कि जानकारी हिंदी में यह ब्लाग पढ़ सकते हैं।

    आप इनडेक्स फंड या डेप्थ फंड के साथ भी जा सकते हैं अगर आपको रिस्क ज्यादा नहीं होता और आपको बैंक में मुकाबले अच्छी खासी एक्स्ट्रा इनकम महिने या साल के आखिर में मिल सकती हैं।

    मंथली एसआयपी का ऑप्शन भी बढ़िया है आप इनकम का एक छोटा-सा हिस्सा किसी इंडेक्स फंड में बैलेंस म्युचुअल फंड में डालते रहे और इसके साथ आपको कंपाउंडिंग कि मदत से आगे जाके उसके व्याज पर व्याज मिलता रहेगा और आपकी राशी जितनी ज्यादा अवधी के लिये आप रखेंगे और उसमें एसआयपी करते जायेंगे तो आपकी राशी बढ़ती जायेंगी।

    3. डिजीटल मार्केटिंग और एफिलेट मार्केटिंग ( Digital Marketing & Affiliate Marketing):

    Digital Marketing और एफिलेट मार्केटिंग आज के वक्त एक ऐसी चीजें हैं जो सीखकर आज कई लोग कुछ घंटे हि काम कर कर लाखों करोड़ों रुपयें कमा सकतें हैं। इसके बारे में मार्केट में कई कोर्सेस है जहां से आप यह कुछ महिनो के अंदर सिख सकते हैं। इसके लिये आपको ज्यादा समय भी नहीं चाहिये आप इसे ऑनलाईन कोर्स करके भी रोज थोड़े वक्त के लिये या पार्ट टाईम के लिये कर सकते हैं।

    4. रियल इस्टेट( Real Estate): 

    इसमें आप कोई जगह और या फ्लॅट और घर को खरिदकर उसे रेंट पर देकर उससे हर महिने एक राशी को प्राप्त कर सकते हों। ज्यादातर रियल इस्टेट में जगह और फ्लॅट के रेट दिनभदिन बढ़ते जाता है। जैसे जैसे डेवलपमेंट बढ़ेंगी वैसे वैसे जगह और फ्लॅट के रेट बढ़ते ही रहते हैं और अगर मेंट्रो‌ शहरों कि बात करें तो चंद सालों में आपके इस्टेटी कि किंमत कई गुणा बढ़ती ही रहती हैं।

    इतना ही नहीं और कई सारे माध्यम है जहां से आप पॅसिव इनकम को चालु कर सकते हैं और वित्तीय आजादी प्राप्त कर सकते हैं। स्मार्ट तरिके से निवेश करने कि आयडियाज के लिये आप हमारा स्मार्ट निवेश के 8 तरिके? यह आर्टिकल भी पढ़ सकते हैंं।

    फायनाशियल आजादी के क्या फायदे हैं? ( What is Financial Freedom Passive Income)

    इसके बहुत से फायदे हैं, क्या कभी आपने सोचा है कि आप बचपन में आप कितना खुश थे और जैसे जैसे बडे होते गई वैसे हमारी खुशी कम होती गई अगर इसका कारण कुछ होगा तो एक ही कि आप बचपन में पुरी तरह से फायनाशियल फ्रि थें आपको किसी भी प्रकार पैसे के बारे में सोचना नहीं पड़ता था। चलिये देखते हैं कि इसके क्या क्या फायदे हैं।

    • हम वह चींजे कर सकते हैं जो हमें पसंद है जो करने से हमें खुशी मिलती हैं।

    • हम एक फ्रि लाईफ जी सकते हैं।

    • आप आपके सपनों को पुरा कर सकते है जो कि आप बचपन से देखते आ रहें हैं।

    • अपने बच्चों को या अपने फॅमिली को एक अच्छी लाईफ दे सकते हैं।

    आपने क्या सीखा:

    इस आर्टिकल में हमने देखा कि What is Financial Freedom in Hindi और यह हम किस तरह से पुरा कर सकते हैं। अगर आप जाॅब भी करते हैं तो आप इसे आनेवाले समय में कैसे पैसों की टेंशन से छुटकारा पा सकते हैं। वित्तीय स्वातंत्र्य के क्या क्या फायदे हैं यह हमने विस्तार से देखा।

    आपको What is Financial Freedom in Hindi यह जानकारी कैसी लगी अगर पसंद आते तो इसे अपने मित्रों से जरुर शेअर करे और कोई सवाल और सुझाव हो तो हमें जरुर लिखें।

    FAQ

    Q: वित्तीय स्वातंत्रता का मतलब क्या होता हैं?

    Ans: वित्तीय स्वातंत्रता मतलब पैसे के लिये काम करने कि जरुरत ना पड़ना।

    Q: आप नोकरी करते हैं तो क्या फायनाशियल फ्रि हो सकते हैं?

    Ans: जी हा, आप अगर कोई ऐसा कुछ अभी से फ्युचर प्लाॅनिग करके उसपे ऍक्शन लेते हो तो आप आज नहीं तो कल इसे प्राप्त कर सकते हैं।

    Q: फायनान्सशियल फ्रिडम के क्या फायदे होते हैं?

    Ans: आपको पैसे कमाने कि सोचनी नहीं पड़ेगी, आप जो चाहे वो कर सकते हैं एक फ्रि लाईफ जी सकते हैं।

    अन्य पढ़ें:

    वारेन बफेट के 6 निवेश मंत्रा ?

    राकेश झुनझुनवालाजी के द्वारा बताते डरे निवेश मंत्रा?

    Post a Comment

    0 Comments