शेअर बाजार के ऊपर 5 अच्छी बुक कौनसी हैं? | Best Share Market Books in Hindi pdf 2023

स्टाॅक मार्केट के ऊपर बेहतरिन किताबे हिंदी मे

Share Market 5 Books in Hindi pdf: अगर आज के वक्त हम शेअर मार्केंट का कोर्स करना चाहते हैं तो हमें लगभग 5000 से लेकर 1.5 लाख रुपयों के कोर्स मिलेंगे लेकिन अगर हम किसी एक्सपर्ट कि बात करें तो तो उसका सारा नाॅलेज, ज्ञान हम उसकी लिखी हुईं किताब से भी पा सकते हैं और वह भी 500- 1000 रुपयों में उनकी किताब को पा सकते हैं या उसकी pdf फाईल को मोबाईल में प्राप्त पर सकते हैं।

आज हम ऐसे हि कुछ अच्छी किताबों के बारे आपको इस आर्टिकल में बतायेंगे जिसे पढ़कर आप अच्छी तरह से शेअर मार्केट को समझ सकते हैं। शेअर मार्केट का गणित समजने के लिये आपको कोई मंहगे क्लास या कोर्स कि जरुरत नहीं हैं आप एक कम राशी देकर बुक को पढ़कर भी पुरी नाॅलेज ले सकते हैं। तो चलिये जानते हैं उन किताबों के बारे में।

    Telegram
    Best Stock Market 5 Books in Hindi कौन-कौन सी हैं?

    1. बेबोलीन का सबसे अमीर आदमी:

    यह किताब में शेअर मार्केट के ऊपर कोई भी जानकारी नहीं मिलेगी लेकिन अगर आपको शेअर मार्केट, म्युचुअल फंड, क्रिप्टोकरेंंसी हो या कोई और इन्वेस्टमेंट हो यह किताब आपको पढ़नी ही चाहियें क्योंकी अगर सबका सार देखें तो एक प्रकार से आपको इस किताब में मिलेगा।

    इस बुक में स्टोरी द्वारा कुछ चींजे समझाने की कोशिश कि इसमें बताया गये कुछ चींजे

    1. जो भी आप कमाते उसका 10 प्रतिशत सेविंग क्यों।

    2. वह वह पैसा ऐसी जगह लगाव जहां से आपको उससे भी रिटर्न्स आयें।

    3. ज्यादा प्रोफिट के चक्कर में कभी ज्यादा इन्वेस्टमेंट मत करें।

    4. किसी एक जगह अपना पैसा मत लगावों उसे अलग अलग जगह लगावों।

    यह काफी पुरानी बुक हैं लेकिन इसके फाॅर्मुले आज भी जैसे के तैसे काम करते हैं।

    2. द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर:

    यह बुक स्टाॅक मार्केट कि बायबल कहीं जाती है। दुनिया के सबसे मशहुर इन्वेस्टर वारेन बफेट जिसे अपना मेंटाॅर मानते थे उन्होंने यह लिखी हैं। अगर शेअर मार्केट का गणित आपको पुरी तरह आपको समझना है तो यह बुक को आपको पढ़ना ही होगा।

    यह किताब बहुत लोगों को पढ़कर भी समझ नहीं आती क्योंकि यह काफी दिनों पहले लिखी गई किताब हैं। यह किताब पढ़ने से पहले इस किताब में क्या हैं यह जान लें उसके बाद आपको समझने में थोड़ी आसानी होगी।

    1. इसमें हमें इन्वेस्टर और स्पेकुलेटर के बीच का अंतर बताया गया हैं।

    2. मि. मार्केट का एक बहुत अच्छा कंसेप्ट इसमें दिया गया है वह बताया गया हैं जो कि इस बुक का सार हैं।

    3. इसमें मार्जिन ऑफ सेफ्टी के बारे में बताया गया मतलब जितना है उससे थोड़ा ज्यादा लेकर चलना।

    4. आयपीओ लेते समय यह देखें की कौन आपको बेच रहा हैं, जादातर आईपीओ को टालें क्योंकी ऑलरेडी बहुत सारे स्टाॅक्स आप आसानी से खरिद सकते हैं तो आयपीओ के पिछे क्यों भागना हैं। ज्यादातर आईपीओ में शेअर आपको मंहगे ही मिलते हैं।

    3. द वारेन बफेट वे:

    यह किताब में वारेन बफेट के जर्नी के बारे में और उनकेें इन्वेस्टमेंट के ऊपर बताया गया हैं। इसमें बताया गया है कि क्यों वारेन बफेट ने अपना अधिकतम इन्वेस्टमेंट इंश्योरेन्स कंपनी में प्रेफर्ड किया। इसमें वारेन बफेट के पोर्टफोलियो के बारे में भी अच्छी तरह से बताया गया हैं। कैसे उन्होंने पार्टनरशिप में अपनी कंपनी बनाई। कैसे उन्होंने अपने गुरु से स्टेटर्जी सिखकर उसे उपयोग में लाया। कैसे वह कंपनीओं को चुनते हैं किसी को भी खरिदने से पहले कैसे वो मैनेजमेंट को देखते थें Analysis करतें थें। इससे बहुत सारी कंपनी कि केस स्टडी मिलेंगी जिसमें वारेन बफेट कि इन्वेस्टमेंट थीं। पेशंन्स का कितना महत्त्व होता है इसके ऊपर भी इस किताब में पुरा चाप्टर हि देखने को मिलेगां। अगर आपके पास पेंशन नहीं हैं तो आप एक अच्छे इन्वेस्टर कभी नहीं बन सकतें। यह किताब आपका बेस बना सकती है अगर आप दूसरी किताबें पढ़ना चाहते हो तों।

    अगर आप आप वारेन बफेट के बारे में और दिलचस्प जानकारी जानना चाहते हैं तो आप 6 Golden Rules of Warren Buffett for Investment यह आर्टिकल भी पढ़ सकते हैंं।

    4. ट्रेडिंग इन द झोन:

    इस किताब को ट्रेडिंग का बायबल कहा जाता हैं। अगर आप शेअर मार्केट में ट्रेंडिंग करते हो तो यह किताब आपके लिये मस्ट हैं। यह किताब में आपको Trading Psychology के बारे में बताया गया है जिसी के कारण ही ज्यादातर लोग ट्रेडिंग में नुकसान करते हैं। इसमें दिये गये कुछ महत्त्वपूर्ण बातें।

    1. इसमें सबसे पहले बात कि गई है कि Consistent Winner Think Different मतलब जो हमेशा फायदे में रहते हैं क्यों की वह औरों से अलग सोचते हैं।

    2. आगे इसमें बताया गया है Being in Zone मतलब आप जिसमे बेस्ट हो उसी में काम करों दुसरो कि सुनके या देखके लालच में आपको ध्यान मत भटकावों। यानी आप अगर इक्विटी ट्रेडिंग में प्रोफिट में हो तो आप उसी में ट्रेंड करो ना कि ऑप्शन और फिव्चर करना चालु करों।

    3. आप आपके Fear & Over Confidence को दुर रखो अगर आप आपके कॅपिटल का 2 प्रतिशत लाॅस करते हो तो ज्यादा फरक नहीं पड़ता तो उतने में ही ट्रेंड से बाहर पडों मतलब रिस्क कैल्क्युलेट करना बहुत ही महत्वपूर्ण हैं।

    अगर आपको जानना है Trading Kya Hoti Hai और इसे कैसे सीखे तो हमने इसपर भी आर्टिकल लिखा हुआ है वह आप पढ़ सकते हैं।

    5. वन अप ऑन वाल स्ट्रीट:

    यह बुक अमेरिका के मार्केट के बेस पर है लेकिन इसके रुल सभी मार्केट के लिये लागु होते हैं। इसमें बताया गया है कि कोई भी काॅमन मैं भी आसानी से कैसे शेअर मार्केट में निवेश करे सकता है। इसमें बताई गई कुछ बातें।

    1. जब भी आप कोई कंपनी को खरिदने जाये तो उसकी पीई रेशों को कंपेयर करें बाकी पीअर कंपनीयों सें तब पता चलेगा कि वो महंगा है या सस्ता जिसमें इस्टुटुशनल इनेवेस्टमेंट कम हो उसपर ध्यान रखें।

    2. इनसाइडर अपने शेअर खरिद रहो हो तो कंपनी अच्छी होती हैं।

    3. निवेश से पहले उस कंपनी कि कंसिस्टेंट ग्रोथ हो रही है कि नहीं यह देखें साथ में कंपनी पर कर्जा कम या ना के बराबर हो तो बढियां।

    4. कंपनी डायवर्सिफाइड होनी चाहियें।

    इस किताब के बारे में हमने थोड़ी थोड़ी समरी बतादी हैं इसलिये आप अगर पढ़ना चाहते हैं तो पुरी किताब पढ़ सकते हैं अगर आप eBook के माध्यम से भी पढ़ सकते हैं । कई प्लॅटफाॅर्म पर आपको इसके PDF मिल जायेंगें।

    आपने क्या सीखा:

    हजारों- लाखों रुपये खर्च करके कोर्सेस या क्लासेस लगाने से बेहतर है ऊपर दिये गई किताबें और ऐसे ही अनेक किताबें आप आसानी से पढ़ सकते हों और शेअर मार्केट, ट्रेडिंग, इन्वेस्टमेंट के ऊपर अपनी पकड़ बना सकते हों।

    आपको हमारा Share Market Books in Hindi pdf यह आर्टिकल कैसे लगा अगर अच्छा लगा हो तो आप अपने मित्रों से जरुर शेअर करे और कोई सवाल और सुझाव हो तो हमें अवश्य लिखें।

    अन्य पढ़ें:

    Smart Investment के 8 तरिके?

    शेअर मार्केट में निवेश से पहले यह बातें जरुर जान लें?

    हमारा टेलिग्राम चैनल जाॅईन करें यहा क्लिक करें

    X