10 कारणें: शेयर मार्केट में नुकसान कैसे होता है | Losses in Stock Market 10 Reason Hindi 2022

Share Market Me Nuksaan Kyu Hota Hai in Hindi 2022

आजकल हर कोई ताबड़तोड़ पैसे कमाने के पिछे लगा हुआ हैं. सबको जल्दी जल्दी पैसे कमाने हैं. लेकिन इसको Technical Parameters को कोई नहीं समजना चाहता हैं.
शेअर मार्केट का गणित एक रात में समझना ना मुनकिन हैं,कई सालों कि मेहनत लगती है अगर आपको कुछ बड़ा हासिल करना हैं तो जल्दी जल्दी कोई भी चीज नहीं मिलती.
आपने शेअर मार्केट में बहुत लोगों को प्रोफिट करते तो देखा होगा लेकिन बड़े लाॅस कम ही देखें होगें क्योंकी लोग सिर्फ एक साईड हि दिखाते हैं. कई लोगों ने तो कई बार अपने अकाउंट खाली कर दिये हैं तब जाके उन्हें समझ आया की शेअर मार्केट कैसे काम करता हैं.

शेअर मार्केट में निवेश करने से पहले यह १० बातें जरुर जान लें ?
आज इस आर्टिकल में आज हम इसी विषय पर बात करेंगे कि किन किन कारणों से लोग स्टाॅक मार्केट में ज्यादातर दफा नुकसान ही करते हैं (Losses in Stock Market 10 Reason Hindi 2021) चलिये जानते हैं विस्तार सें.

    Stock Market me Nuksan Kyu Hota hai in Hindi

    1. आधा-अधुरा नाॅलेज (Lack Of Knowledge):

    अगर आपको किसी भी चींज में सफल होना है तो आपको उस क्षेत्र में पुरी जानकारी होना जरुरी होता हैं चाहे वो शेअर मार्केट हो या अन्य कोई क्षेत्र.
    बहुत सारे किसी कि सुनके या किसी को देख के एकदम से इंप्रेस होकर इस क्षेत्र में आते हैं, और उन्हें लगता है कि यह बहुत आसान है मैं भी कर सकता हुं और फिर कुद जाते हैं सीधे और नुकसान होने के बाद Share Market को ही भला बुरा कहते हैं.
    अगर आप इंजिनियर बनना चाहते हैं या डाॅक्टर या अन्य कोई भी पेशा तो आपको उसके लिखे ४-५ साल देना पड़ता है ,सिखना पड़ता हैं तब जाके आप उस क्षेत्र के पक्के खिलाड़ी बनते हो उसी तरह ही यह शेअर मार्केट हैं, आपको इसे सिखना होगा समय देना पड़ेगा तब जाके आप इसमे प्रोफिट कर सकते हैं वरना आपको एक दो दिन आपको फायदा होगा लेकिन अगर आप महिने के या साल के आखिर में आपका अकाउंट नुकसान में ही दिखेगा.

    2. स्टाॅपलाॅस का ना लगाना ( Stoploss):

    यह सबसे काॅमन गलती हैं कि बहुत लोग अच्छा खासा ट्रेडिंग करके प्रोफिट करने का हुनर रखते हैं पर वो Overconfident में स्टाॅपलाॅस ऑर्डर नहीं लगाते इसकी वज़ह से काफी लोग एक ही बार ज्यादातर पैसा गवा देते हैं.
    आप कोई भी ट्रेड लेते हो या डिलीवरी को स्टाॅक को खरिदते हो तो आपको कुछ नियम का पालन करके ही ट्रेंड लेना चाहियें, क्योंकी इंडेक्स हो या कोई स्टाॅक्स कोई भी न्युज या रिसल्ट या फिर दुनिया भर के मार्केट में निगेटिव संकेत आने पर भी मार्केट कभी भी ऊपर या नीचे जा सकता हैं इसीलिए आपका प्रोफिट  Unlimited होना चाहिये मात्र आपका लाॅस आप जितना दिन का या कोई ट्रेंड का सहन कर सकते हों उतना ही होना चाहियें.
    इसलिये स्टाॅपलाॅस , टार्गेंट आपका तय करके ही आप इंट्री ले तभी आप महिने के आखिर में फायदा कमा पायेंगे.

    3.चार्ट इंडिकेटर्स पर ज्यादा भरोसा रखना ?

    जब भी नये लोग Stock Market Beginners होते हैं वह Chart Indicators को इस्तमाल करके नई नई Statergy पर Buy और Sell करना चालु कर देते हैं, मैं ऐसा नहीं कह रहा कि Technical Chart Indicators Work नहीं करते यह काम करते हैं लेकिन आप इन्हें गलत तरिके से इस्तमाल करते हों.
    Maximum जो Indicators होते हैं वह Lagging Indicators होते हैं यानी Price Action होने के बाद आपको Indicate करते हैं Buy या Sell के लिये, अगर आप  इंडिकेटर के भरोसे किसी Trade में  Entry लेते हो तो आपकी Entry Late होती हैं यानी देरी से हुई होती हैं और थोड़ासे समय बाद आपके Opposite Direction में Price Movement जानी लगती हैं और आप नुकसान में बाहर निकल जाते हों इसके कारण आपको कई बार Losses से गुजरना पड़ता हैं.

    4. स्टॅटर्जी को बदलते रहने से नुकसान होना? ( Statergy Changes)

    कोई भी एक स्टॅटर्जी हो अगर आप उसको ज्यादा समय के लिये इस्तमाल करते हो या उसी पर हि ट्रेंड करते हो तो महिने के या साल के आखिर में आपका अकाउंट हरे में ही आपको दिखेगा.
    लेकिन अगर आपको एक या दो दिन के लिये अगर किसी १ स्टेटर्जी में नुकसान होता है तो आप वो छोड़ के कोई और स्टॅटर्जी को ढुंढने लगते हो और उसके साथ भी वही होता है और फिर कोई तिसरी स्टॅटर्जी धुंधने लगते हो इस कारण आप हमेशा लाॅस में ही होते हो.
    आप कोई एक या चुनिंदा स्टॅटर्जी जो की आपने ६ महिने या १ साल तक Back Test किये हुयें हैं पिछले Stock Chart पर यह काम करता है कि नहीं यह देखने के बाद आप इसे चुनें , इसमें आपको किसी दिन Stoploss भी देखने को मिलेंगे लेकिन यह Part Of Game होता हैं कोई भी ऐसी Statergy नहीं है जो १०० में से १०० प्रतिशत काम करती हों. तो एक या गिनी चुनी स्टॅटर्जी पर Work करें आप नुकसान में नहीं रहोंगे.

    5. न्युज देखकर ट्रेंड लेना? ( News)

    बहुत बार और बहुत जन ऐसा हि करते हैं कि किसी न्युज को पढ़ना या Business Channel पर देखकर शेअर को खरिदना और बेचना यह आपको थोड़े समय के लिये फायदा देगा लेकिन बहुत बार आपको डुबा भी सकता हैं.
    बहुत बार Pramotors, Brokerage House या किसी बड़े प्लेयर ने इसे किसी शेयर को उंचे दाम पर खरिदा होता हैं और उसे नुकसान से बचने के लिये Paid News Spread, Fake Breakout या झुठी खबरों को जान बुझकर फैलाया जाता हैं और दाम बढ़ने पर एकदम से Selling आती है और Retail Investors उसमें अटक जाते हैं, और Retailers को नुकसान उठाना पढ़ता हैं.
    यह हर बार नहीं होता यह सही भी होते हैं लेकिन कोई न्युज से कोई शेयर ना खरिदे या बेचे. आपकी Technical और Fundamental Analysis जरुर करें फिर हि इन्वेस्टमेंट या ट्रेडिंग करें.

    6. Stock Market Tips, Groups, Membership ना लें?

    जो भी नयें लोग शेयर मार्केट में उतरते हैं उन्हें ज्यादा कुछ पता नहीं होता की कौन से शेअर खरिदने अथवा बेचने चाहियें ऐसे में वो अलग अलग लोगों कि बातों को सुनके या ट्रायल के तौर पर किसी Teegram या Whatsapp पर Paid Service लेते हैं लेकिन लंबे अवधी में बहुत से फ्राॅड , गलत Tips , Wrong Analysis के चक्कर में अपने पैसे गवाते हैं.
    ऐसा नहीं है की सारे गलत होते हैं लेकिन ज्यादातर केस में हम शुरवात में प्रोफिट कमानें के चक्कर में नुकसान ही करते हैं.
    एक बात ध्यान रखें जबतक आपको शेअर मार्केट कि पुरी तरिके से नाॅलेज नहीं होती तब तक आप लंबे समय फायदे में नहीं रह सकतें.

    7. गलत जगह पर निवेश करना ?

    शेअर मार्केट में बहुत सारे लोग इन्वेस्टमेंट करने के लिये आते हैं और उनको Future & Options , Commodity, Currency ,Intraday में घुस जाते हैं जादा पैसे कमाने चक्कर में, ऐसे में बहुत से लोग लाॅस कर लेते हैं.
    Stock Market में पैसा कमाना आसान है लेकिन गलत चीजों में जाने की वजह से नुकसान का सामना करना पढ सकता हैं.

    अगर आप किसी का देख के या सुनके Delivery से सीधे अगर फ्युचर, ऑप्शन या फिर कमोडिटी में जाते हों तो पहली बार में ज्यादातर यह प्रोफिट दिखाता है तो लोग यह करने लगते हैं और किसी एक दिन मार्केट सब प्रोफिट लेके जाता है साथ साथ आपकी अमाउंट भी लेकर जाता हैं.
    यह Advance Share Market आप तभी आजमाये जब आपको पुरा भरोसा की  मेरी Analysis जादातर सही रहती हैं.

    8. मनी मैनेजमेंट और निवेश राशी सही होना चाहियें? Money Management)

    इसमें कई बार आपको प्रोफिट होता है लेकिन सही मनी मैनेजमेंट और निवेश राशी कितनी लेनी है यह प्रोपर नहीं होने के कारण भी नुकसान कि संभावना बढ़ जाती हैं.
    आपको हर समय एक ही राशी से इन्वेस्टमेंट या ट्रेडिंग करना नहीं होता कई बार थोड़ी Quantity कम करके भी शेअर खरिदने अथवा बेचने होते हैं क्योंकी रोज मार्केट कि चाल एक जैसे नहीं होती , पुरी अभ्यास के बाद ही सही राशी से Trade अथवा Investment करना भी Important हैं नहीं तो आप फायदे में रहते हो तब भी आप लंबे अवधी के लिये नुकसान में ही जाओगें.

    9.रिस्क मॅनेजमेंट ना होने से नुकसान ? (Risk Management)

    कई Segment में या अलग अलग ब्रोकर के द्वारा आपको लिवरेज दिया जाता हैं यानी आप कम पैसे में ज्यादा Quantity Buy कर सकते हों इसको कई बार हम जरुरत से ज्यादा इस्तमाल करते हैं और हमारे Loss कि Probability बढ़ाते हैं क्योंकि Margin लेके Trade करना जितना प्रतिशत फायदा देता है उतना नुकसान भी कर सकता हैं.
    आप कोई भी शेअर या डेरिवेटिव्स खरिदे अथवा बेचें आपका Target और Stoploss पहले से Analysis करके Deside होना चाहिये यानी Risk Reward Ratio को मॅनेज करना आवश्यक होता हैं नहीं तो एक बार आप इंट्री कर लेते हो उसके बाद आपको Analysis करना नहीं होता, यही गलत बहुत बार की जाती हैं. अगर आपका रिस्क मॅनेजमेंट सही नहीं रहेगा तो आपके नुकसान होने की संभावना भी ज्यादा होगीं.

    10. गलत समय में निवेश करने से नुकसान? ( Wrong Timing Investment)

    अगर आप किसी शेअर अथवा डेरिवेटिव्स में निवेश कर रहे हो तो आपको पहले उसकी हिस्ट्री जान लेनी चाहिये.
    यानी उसके Fundamental Parameters यानी Quarterly Results, Profit, Loss यानी P/E Ratio, Earning, कंपनी पर कोई कर्जा है कि नहीं , Pramotors Holding Stable हैं या कम हुई है यह सब देखना होगा अगर आप ज्यादा समय के लिये निवेशकी सोच रहें हैं तो.
    और अगर आप कम समय के लिये सोच रहे हैं तो आपको Stocks की Technical Analysis यानीं One day, Weekly, Monthly, Hourly, 15 min, 5 min Charts को देखना पड़ेगा , प्राइस ऍक्शन को जानना पड़ेगा वरना आपको नुकसान होने की संभावना बन जाती है और ज्यादातर लोग यही गलतीया दौराते हैं.

    आपने क्या सीखा:

    इस आर्टिकल में आपने सीखा की ज्यादातर लोग क्यों शेअर मार्केट में नुकसान हि करते हैं इसके कौन कौन से 10 कारण हैं जिसे आपको टालना होगा अगर आपको आगे जाके स्टाॅक मार्केट में सफल होना है तो.

    अगर आप यह १० गलितीयों को भी सीखकर बाद अगर आप शेअर मार्केट में निवेश अथवा ट्रेंड करोगे तो मुझे पुरा भरोसा है की आप आगे जाके एक सफल शेयर मार्केट निवेशक बनोगें.

    10 कारणें: शेयर मार्केट में नुकसान कैसे होता है यह आर्टिकल आपको कैसा लगा ? अगर पसंद आया हों तो इसे अपने मित्रों से जरुर शेअर करे और कोई सवाल और सुझाव हो तो हमें जरुर लिखें.

    अन्य पढें:

    Investment के ऊपर ६ अच्छी किताबें?

    शेयर मार्केट से रोज १००० रुपयें कैसे कमायें?

    स्टाॅक मार्केट में एसआयपी कैसे करें?

    No comments

    Powered by Blogger.