Mutual Fund क्या है और कैसे Work करता है ?

Mutual Fund kya hai kaise kam karta hai

 म्यूचुवल फंड को हिंदी में पारस्परिक निधी कहते हैं| यह एक प्रकार का सामुहिक निधी होता है|
दरसल इसमे निवेशक के समुह मिलकर स्टाॅक या अन्य किसी सिक्युरिटीज मे निवेश करते है| म्यूचुवल फंड मे एक फंड प्रबंधक होतो है जो की फंड को किसमे निवेश करना है यह निर्धारित करता है| उनमे होनेवाले लाभ और हानी की जानकारी रखता है| होनेवाले लाभ और हानी को निवेशको मे बाटता है|
स्टाॅक मार्केट मे जानकारी नहीं होनेवालो को या उसमे निवेश करने की इच्छा रखनेवालो को म्यूचुअल फंड एक बेहतरीन जरिया है| 

    म्यूचूवल फंड मॅनेजर कौन होता है?

    दरसल म्यूचूवल फंड चलानेवाला फंड मॅनेजर एक प्रोफेशनल, एक्स्पर्ट और अनुभवी पर्सन होतो है| इसमे निवेशको को इस बात की चिंता करने की जरुरत नहीं पडती की शेअर खरिदना है या बेचना है, म्यूचुवल फंड मे यह सब चिंता फंड मॅनेजर की होती है|
    फंड कंपनी को चलाने के लिये फंड मॅनेजर के निचे एक टिम भी काम करती है जो की फंड मे बदलाव करने पर रिसर्च करती रहती है|

    म्युचूवल फंड मे निवेश करने के क्या फायदे है ? 

    आपको अगर स्टाॅक मार्केट की जानकारी नहीं है तो आप इन-डायरेक्टली म्यूचुवल फंड की मदत से स्टाॅक मार्केट मे निवेश कर सकते हैं|
    जादातर लोग अपने पैसे बॅक एफडी मे निवेश करते है| बॅक मे निवेश करने से आपको जादा से जादा ५ से ६% रिटर्न मिलता है पर अगर आप म्यूचुवल फंड मे निवेश करते है तो कम से कम बॅक से तो अच्छे रिटर्न्स आपको मिलेंगे ही मिलेंगे|
    अगर आप डायरेक्टली स्टाॅक मार्केट मे निवेश करते है तो आपको हर एक स्टाॅक किंमत पर नजर रखनी होती है कब कौनसा स्टाॅक बेचना है कब कौनसा स्टाॅक खरिदना है यह आपको देखना पडता है और अगर आपको शेअर मार्केट (स्टाॅक मार्केट) की अच्छे से जानकारी नहीं है तो आप आपका सारा पैसा गवा सकते हैं |
    शेअर मार्केट की जगह आप म्यूचुवल फंड मे निवेश करते है तो आपको यह सब नहीं देखना पडता वो सब फंड मॅनेजर को देखना पडता है आपको सिर्फ एक अच्छे फंड मॅनेजर और उस फंड कंपनी की रेटिंग  देखके उस फंड मे इनवेस्ट कर करना होता है|

    म्यूचुवल फंड के प्रकार ?

    १. इक्विटी फंड:

     इसमे कंंपनी सब निवेशको के पैसै इकठ्ठा करके इक्विटी शेअरो मे लगा देती ही| यह फंड हाईली रिस्की माना जाता है| 

    २. डेब्ट फंड: 

    इसमे निवेशको का फंड जादातर काॅरपोरेट ऋण स्किम या सरकारी स्कीम मे लगाया जाता है|

    ३. बैलेंन्स फंड:

     इसमे फंंड कंपनी निवेशको का पैसा इक्विटी और डेब्ट दोनो मे इनवेस्ट करती है|

    ४. गिल्ट फंड: 

    यह फंड सबसे सुरक्षित माना जाता है| इसका सारा पैसा कंपनी सरकारी योजनांचा मे लगा देती है| इसमे सरकार का बॅकअप भी रहने के कारण यह फंड सबसे जादा सुरक्षित और अच्छा माना जाता है|

    मै कौन से म्यूचवल फंड मे निवेश करु?

    भारत मे बहुत सारे म्यूचवल फंड मौजुद है| आप म्यूचूवल फंड की पिछले सब रेकाॅर्ड यांनी कितनी साल में कितना निचे या उपर गया है यह देखके भी निवेश कर सकते हैं|
    आप अलग अलग म्यूचुवल फंड संस्था द्वारा दि गई रेटींग के आधार पर आप किसी अच्छे म्यूचुवल फंड मे निवेश कर सकते हैं| पर जादातर रेटिंग बदलती रहती है| आप फंड मॅनेजर को कौन चला रहा है उसे कितना अनुभव है इसके आधार पर भी म्यूचुवल फंड मे निवेश कर सकते हैं | या आप अपने पसंद अनुसार किसी फंड मे निवेश कर सकते हैं जैसे आपको ऑटो सेक्टर जानकारी जादा है तो आप ऑटो सेक्टर  के किसी फंड मे इनवेस्ट कर सकते है|
    आपको फार्मा सेक्टर का भविष्य आगे जाके अच्छा लग रहा है तो आप फार्मा सेक्टर के किसी फंड मे आप अपना पैसा इन्वेस्ट कर सकते हैं| किसी को सोने और चांदी की समज जादा हो तो वह किसी असेट्स म्यूचुवल फंड मे अपना पैसे इनवेस्ट कर सकते हैं| आपके हिसाब से आप किसी भी म्यूचुवल फंड मे अपना पैसा लगा सकते हैं|

    म्युच्यूवल फंड मे इनवेस्ट करने के लिये सुरुवात कहा से करे ?

    म्यूचुवल फंड के कई सारे संस्था से आप सिधे संपर्क करके आप अपना अकाऊंट निकाल सकते हैं| अगर आपको ऑनलाईन प्रक्रिया की थोडी बहोत भी जानकारी है तो आप म्युच्यूवल फंड कंपनी मे घर बैठे ही रजिस्टर करके इनवेस्ट कर सकते हैं|

    म्यूचुवल फंड मे इनवेस्ट करने के लिये बेहतरीन ऐप्स कौनसी है?

    निचे दिये गये लिंक से आप किसी भी एक ऐप मे रजिस्टर ( आधार ऑनलाईन केवायसी) करके आप म्यूचुवल फंड मे इनवेस्टमेंट चालु कर सकते हैं|

    १. ग्रो ऐप
    २. कुवेरा ऐप

    और बहुत से माध्यम है रजिस्टर करने के पर जादातर लोग यही माध्यम इस्तमाल करते है|
    क्या आपने अभी तक म्यूचुवल फंड मे इनवेस्टमेंट करना चालु नहीं किया तो जल्द से जल्द उपर दिये गये लिंक कि मदत से अपना अकाऊंट खोल दिजीए और इनवेस्ट चालु कर दिजीए|

     Mutual Fund सिप में कितना रिटर्न मिलता है?

    ऐसी कोई फिक्स वैल्यू नहीं होती अलग-अलग में 56 के अलग-अलग रिटर्न्स होते हैं और डिपेंड करता है निकल पड़े कौन सा है इक्विटी है डेट है या और कोई है लेकिन मोटा मोटी पकड़े तो बैंक डिपॉजिट से ज्यादा ही मीटर फंड के रिटर्न होते हैं और अगर आप हाइब्रिड फंड में इन्वेस्टमेंट करते हैं तो आपकी रिस्क का कम हो जाती है
    वैसे देखा जाए तो Bank के रिटर्न 6 से 8% के ऊपर नहीं होते, मुचल फंड की बात करें तो ज्यादातर यह बैंक के फिक्स्ड डिपॉजिट से ज्यादा ही होता है.

    एसआईपी में कैसे निवेश करें?

    इसके लिए आपको एक फिक्स रुपये हर महीने के किसी एक दिन निश्चित करनी होती है उस दिन आप उतने अमाउंट की राशी आपके अकांउट से आपके निर्धारित किए हुए दिन को कट जाती है अगर किसी महीने आपको रुपए का भुगतान नहीं करना तो आप उसे स्किप भी कर सकते हैं.

    FAQ

    Q: म्युचुअल फंड क्या होता है? 
    ANS: म्युचवल फंड यानी सब लोगो का पैसा एक फंड मे जमा किया होता है उसे म्युचुअल फंड कहते है.

    Q: म्यूच्यूअल फण्ड कितने प्रकार के होते हैं?
    ANS: डेट, लिक्विड, लार्ज कॅप, मिड कॅप, स्माॅल कॅप, मल्टी कॅप, फ्लेक्सी कॅप,  इएलएसएस ऐसे 8 प्रकार है.

    Q: म्युचुअल फंड रिस्की होता है क्या?
    ANS:  हा, थोडा बहुत रिस्की होता है लेकिन रिस्क के हिसाब से ही रिटर्न्स भी कम जादा ही मिलते है.

    Q: बॅक एफडी  से जादा रिटर्न्स म्युचुअल फंड मे होते है क्या?
    ANS: जी हा लगभग जादा साल आप इनवेस्टमेंट करते है तो आपको बॅक से जादा ही रिटर्न्स मिलते है लेकिन यह भी डिपेंड करता है आप कौन से फंड मे निवेश करते हो.

    Q: म्युचुअल फंड से हम शेअर मार्केट मे पैसे निवेश कर सकते है क्या?
    ANS: जी हाँ, डायरेक्टली नहीं लेकिन आप इनडायरेक्टली इक्विटी फंड मे पैसे इनवेस्ट कर सकते हो.

    अन्य पढे:


    Powered by Blogger.